• May 20, 2018 |

Skill Development & Industrial Training Department, Haryana

News Details

  • प्रेस विज्ञप्ति 5-01-2017

    • चण्डीगढ, 5 जनवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि कालका-काला आम्ब-कलेसर दोनों पर्वतीय क्षेत्र हिमाचल प्रदेश व हरियाणा की सीमा के साथ-साथ लगते हैं और यहां पर पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं, इससे स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसर भी सृजित होंगे।
    • मुख्यमंत्री ने यह बात आज पंचकूला के कालका विधानसभा क्षेत्र का हिमाचल प्रदेश सीमा से सटे अंतिम गांव नीमवाला के दौरे के दौरान कही और उन्होंने करोड़ों रूपए की विकास परियोजनाओं की सौगात नववर्ष के अवसर पर शिवालिक पर्वतीय क्षेत्र के लोगों को दी, जिनमें रूण नदी पर बडिय़ाल से नीमवाला तक 8.23 करोड़ रूपए की अनुमानित लागत से बनाए जाने वाले उच्च स्तरीय पुल की आधारशिला, 3.60 करोड़ रूपए की अनुमानित लागत से समलौठा से जीआ तक रास्ते का निर्माण तथा 87.84 लाख रूपए की लागत से समलौठा देवी मंदिर के लिए चौड़े रास्ते के निर्माण की आधरशिला शामिल है।
    • उन्होंने कहा कि सरकार के पहले दो वर्ष के कार्यकाल में 25 दिसंबर, 2016 को 90 की 90 विधानसभाओं का दौरा करने उपरांत 50 ऐसे गांवों, जिनमें आज तक पूर्व नौं मुख्यमंत्रियों में से कोई भी मुख्यमंत्री, मंत्री, उपायुक्त या एसडीएम स्तर के अधिकारी ने कभी दौरा नहीं किया, उन गांवों का दौरा करने की शुरूआत की है। उन्होंने कहा कि नीमवाला गांव के लोगों ने विभिन्न मांगें रखी है जिनकी व्ययवर्हया करवाई जाएगी और व्यवर्हयता अनुसार ही विकास कार्य को करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस पुल के निर्माण से हिमाचल प्रदेश और हरियाणा के लोगों को सुविधा होगी और लगभग 40 से 50 किलोमीटर की दूरी कम होगी। 
    • हरियाणा व हिमाचल प्रदेश की सीमा से सटे गांव नीमवाला में उमड़ी भीड़ से गदगद मुख्यमंत्री ने कहा कि हालांकि शिवालिक पर्वतीय क्षेत्र उनके लिए कोई नया नहीं है। संघ के प्रचारक के तौर पर तथा भाजपा महामंत्री के रूप में वे कई बार इस क्षेत्र का दौरा कर चुके हैं और यहां के लोगों की कठिनाईयों से भलि-भांति परिचित हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र के विकास के लिए सरकार की ओर से जो संभव होगा, उन परियोजनाओं को प्राथमिक्ता के आधार पर पूरा किया जाएगा और धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि उपायुक्त डॉ० गरिमा मित्तल तथा शिवालिक विकास बोर्ड के सदस्य पवन धीमान की सूचना देने पर की नीमवाला में आज तक कोई मुख्यमंत्री, मंत्री व अधिकारी नहीं गया है। इसीलिए वर्ष 2017 के पहले सप्ताह में उन्होंने यहां का दौरा करने का निर्णय लिया। 
    • इसके अलावा मुख्यमंत्री ने 4.22 करोड़ रूपए की लागत से बनाए जाने वाले धर्मपुर कालका से कांगुवाला, 22 किलोमीटर लंबी बड़ी शेर से थापली तक 4.25 करोड रूपए की लागत से सडक़ की रिपेयर, कालका विधानसभा क्षेत्र में हरियाणा ग्रामीण विकास कोष से विकास कार्यों के लिए 10 करोड़ रूपए की भी स्वीकृति दी। साथ ही मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश के पूर्व मंत्री डॉ राजीव बिंदल की मांग पर नारायणगढ से सराहा बस सेवा शुरू करने की मौके पर ही घोषणा कर दी, जिसका उपस्थित लोगों ने तालियों की गडग़ड़ाहट से मुख्यमंत्री का स्वागत किया। 
    • युवाओं को उनके हुनर के अनुरूप रोजगारपरक बनाने के लिए पलवल जिला में भगवान विश्वकर्मा के नाम से कौशल विकास विश्वविद्यालय स्थापित किया गया है, जिसमें तीन महीने से एक वर्ष की अवधि के प्रमाण पत्र पाठयक्रम चलाए जाएंगे, जिनके माध्यम से युवा स्वरोजगार व प्राईवेट क्षेत्र में नौकरी पाने के साथ-साथ सरकारी नौकरियों के लिए भी अतिरिक्त योग्यता अर्जित कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने का सर्वोच्च महत्वता दी है। पहले की सरकारों में विकास परियोजनाओं के लिए अनुमान तैयार होते थे और काम पूरा होने से पहले ही अतिरिक्त बजट मांग लिया जाता था। उन्होंने झज्जर बस स्टैंड का उदाहरण देते हुए कहा कि इस बस स्टैंड के निर्माण के लिए 40 करोड़ रूपए का अनुमान बनाया गया था जो कि 32 करोड़ रूपए से अधिक रूपए की राशि से पूर्ण हुआ। इस प्रकार से लगभग सात करोड़ रूपए की बचत हुई। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी के जयपुर अधिवेशन में दिये गए उस वकतव्य का भी जिक्र किया, जिसमें उन्होंने जिक्र किया कि उन्होंने कहा था कि केन्द्र सरकार से विकास परियोजनाओं के लिए भेजे गए एक रूपए में से ही केवल 15 पैसे ही खर्च होते हैं और 85 पैसे कहां जाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हीं 85 पैसों को पकडऩे के लिए हमने व्यवस्था परिवर्तन पर जोर दिया और भ्रष्टाचार रूपी कैंसर को जड़ से खत्म करने की ठानी है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 8 नवंबर को रात 8 बजे नोट बंदी के निर्णय को सौ सुनार की एक लुहार की कहावत से जोड़ते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के इस निर्णय से कालाबाजारी करने वाले लोगों की नींद उड़ा दी। उन्होंने कहा कि आरंभ में आम जनता को कठिनाई हुई परंतु लोगों ने प्रधानमंत्री का साथ दिया और प्रधानमंत्री को सही ठहराया। उन्होंने कहा कि विकास परियोजनाओं के लिए पहले भी बजट की कमी नहीं थी केवल नीयत की कमी थी और भेदभाव करने की। 
    • अंबाला लोकसभा क्षेत्र के सांसद रतन लाल कटारिया ने कहा कि उन्होंने पंचकूला के विकास कार्यों के लिए 125 लाख रूपए की राशि ऐमपीलैड से जारी करने की घोषणा पहले ही कर चुके हैं और आज कालका विधानसभा क्षेत्र के लिए 50 लाख रूपए की राशि देने की घोषणा की। नोटबंदी के फैंसले पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्णय पर सांसद कटारिया ने कविता के साथ संबोधन को संपन्न किय।
    • इस अवसर पर कालका विधायक लतिका शर्मा ने कहा कि रूण नदी पर बडिय़ाल व नीमवाला को जोडने वाले पुल से हिमाचल व हरियाणा के लोगों को बहुत बड़ा फायदा तो होगा। साथ ही मुयमंत्री मनोहर लाल ऐसे पहले मुयमंत्री बने हैं, जिन्होंने दुर्गम क्षेत्र के अंतिम गांव का दौरा किया है और लोगों से रूबरू हुए। उन्होंने बताया कि इस पुल के बन जाने से हरियाणा एवं हिमाचल के 35 गांवों को आवागमन की सुविधा मिलेगी। उन्होंने बताया कि मोरनी क्षेत्र के गांव जिया, बॉडीवाला, ठंडियो, समलौठा, जौली, उत्तरो, टाठर, भ्भूड़, ठंडोग, राजा टिकरी, हरकाघाट, सेरला, ताल, भीवर, डारला, मोरनी, बडय़ाल, नीमवाला, जौलो, टिकरी तथा हिमाचल के कौला वाला भूड़, सूरला जनोट, चाकली, छाबिया, कटली, ठाकरद्वारा, रंजा भूरमर, ब्रह्मो की सैर, धरोंग, हबी, सराह, बालसर इत्यादि शामिल है। 
    • हिमाचल प्रदेश के पूर्व मंत्री व नाहन से वर्तमान विधायक डॉ० राजीव बिंदल ने भी समारोह को संबोधित किया और मुख्यमंत्री से हिमाचल व हरियाणा को जोडऩे वाली छोटी-छोटी सडक़ों को जोडऩे की मांग की जिसपर मुयमंत्री ने सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। 
    • इस मौके पर हिमाचल के विधायक सुरेश  कश्यप, जिला परिषद की चेयरपर्सन रितु सिंगला, वाईस चेयरमैन बबली शर्मा, भाजपा के जिला प्रधान दीपक शर्मा,  युवा मोर्चा के प्रधान योगिन्दर शर्मा, मार्किट कमेटी रायपुररानी के चेयरमैन हरपाल सिंह, बरवाला के बल सिंह राणा, एडीजीपी डॉ० आरसी मिश्रा, उपायुक्त डॉ० गरिमा मित्तल, एसडीएम जगदीप ढांडा, भाजपा के महामंत्री विरेन्द्र राणा, शिवालिक विकास बोर्ड सदस्य श्याम लाल बंसल, सुभाष शर्मा, मीडिया प्रभारी संजय आहुजा सहित काफी संख्या में मोरनी क्षेत्र के लोग भी उपस्थित रहे।
    •  
    • चण्डीगढ़, 5 जनवरी- हरियाणा राज्य में जन्म पंजीकरण कीसीआरएस प्रणाली के अनुसार  वर्ष 2001 के बाद पहली बार एक हजार लडक़ों के पीछे 900 लड़कियों का लिंगानुपात वर्ष 2016 में दर्ज किया गया है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार देश के सभी राज्यों का लिंगानुपात एक हजार लडक़ों केे पीछे 834 लड़कियां थी।
    • हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि राज्य सरकार ने लिंगानुपात मे सुधार लाने के लिए ठोस प्रयास किए हैं और अब जन्म लिंगानुपात में वृद्धि की उपलब्धि दर्ज की गई है। लिंगानुपात के उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार उन्होंने बताया कि राज्य में जनवरी, 2016 से लेकर दिसम्बर 2016 के बीच 5,25,278 बच्चों ने जन्म लिया, जिसमें से 2,76,414 लडक़े और 2,48,864 लड़कियां हैं और जन्म लिंगानुपात दर 900 को छू गई है।
    • उन्होंने बताया कि हरियाणा के किसी भी जिले का लिंगानुपात 850 से नीचे नहीं है और राज्य के 12 जिलों में लिंगानुपात की दर 900 या 900 से अधिक वर्ष 2016 में दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि दिसम्बर, 2016 के दौरान 15 जिलों की जन्म लिंगानुपात दर 900 से अधिक रही है, जिसमें सबसे ऊपर सिरसा जिला है, जिसकी लिंगानुपात दर 1000 लडक़ों के पीछे 935 लड़कियां हैं, पंचकूला की 923 और फतेहाबाद की 918 है। महेन्द्रगढ़, रेवाड़ी, सोनीपत और झज्जर जिलों में शिशु लिंगानुपात दर जनगणना 2011 के अनुसार 800 से नीचे थी, परंतु अब जन्म लिंगानुपात दर 850 सेेनीचे है और सुधार हो रहा है। राज्य में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम की शुरूआत से 19 जिलों में जन्म लिंगानुपात में बढोतरी हुई है। रेवाड़ी, रोहतक और जींद जिलों में वर्ष 2015-16 से 40 बिंदुओं के माध्यम से सुधार हुआ है और 16 जिलोंं में 20 और 20 से अधिक बिंदुओं के माध्यम से सुधार दर्ज किया गया है। वर्ष 2015 से 2016 तक लगातार जिला सिरसा शीर्ष पर बना हुआ है, जिसका जन्म लिंगानुपात दर वर्ष 2015 में 915 था और 2016 में 935 है।
    • उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा पानीपत में जनवरी, 2015 को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरूआत के पश्चात लिंगानुपात की जांच और कन्या भू्रण हत्या के विरूद्ध बड़े स्तर पर अभियान शुरू किया गया था, जिसके तहत प्रीकन्सैप्शन एवं प्रीनेटेल डायगनोस्टिक टैकनीक्स एक्ट और मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेन्सी एक्ट के क्रियान्वयन के बाद राज्य में इस गैर कानूनी कार्य में लगे अपराधियों पर शिकंजा कसा है। इस अभियान के तहत योजना बनाकर अन्तर-जिलों के साथ-साथ पड़ोसी प्रदेशों के सम्बन्धित अधिकारियों के सहयोग से छापे मारे गये और राज्य की सीमा पार लगे कन्या भ्रूण हत्या के कार्यों में लगे अपराधियों पर शिकंजा कसा गया। प्रीकन्सैप्शन एवं प्रीनेटेल डायगनोस्टिक टैकनीक्स एक्ट और मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेन्सी एक्ट के तहत छापे मारकर लगभग 400 एफआईआर अपराधियों के विरूद्ध दर्ज की गई है, जिनमें 75 छापे पड़ोसी राज्यों में मारे गये हैं, जिनमें दिल्ली में 17, पंजाब में 15, उत्तर प्रदेश में 37 और राजस्थान में 6 मामलों पर एफआईआर दर्ज की गई है। इन छापों से इस बुराई को प्रभावी रूप से दूर करने के लिए पड़ोसी राज्यों के बीच तालमेल बनाने की आवश्यकता है।
    • प्रीकन्सैप्शन एवं प्रीनेटेल डायगनोस्टिक टैकनीक्स एक्ट और मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेन्सी एक्ट के तहत विभिन्न जिलों मेें लिंगानुपात की जांच के लिए दवाओं की बिक्री और आपूर्ति के लिए 40 से अधिक मामले दर्ज किए गये हैं। उन्होंने बताया कि जन्म लिंगानुपात समाज के विकास को इंगित करता है कि महिलाओं के साथ कैसा व्यवहार किया जा रहा है। लडक़ों की चाहत और अल्ट्रासाउंड मशीनों की बढ़ती उपलब्धता के कारण देश में लिंगानुपात गिर रहा है। इसके अलावा, रेडियोलोजिस्ट और डाक्टर तथा अप्रशिक्षित स्वास्थ्यकर्ता, लैबोरेटरी या एक्स-रे तकनीशियन या ऑपरेशन सहायक के बीच एक अपवित्र गठजोड़ है। अन्तर्राज्यीय छापों के साथ-साथ राज्य के विभिन्न भागों में छापों के दौरान पोर्टेबल, किफायती और आसानी से ले जाने वाली अल्ट्रासाउंड मशीनों को इन फर्जी व अप्रशिक्षित पैरामैडिकल लोगों से बरामद किया गया है। इस प्रकार की भी घटनाएं हुई हैं कि कुछ लोग बिना अल्ट्रासाउंड मशीनों के गर्भवती महिलाओं और उनके परिजनों को जैली और अन्य चीजों का इस्तेमाल करके जैसेकि मोबाइल फोन का प्रयोग कर बेबकूफ बनाते हैं।
    • जनवरी, 2016 के दौरान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में कन्याओं की सुरक्षा के लिए राज्य सरकार द्वारा उठाए गये कदमों की सराहना की। उन्होंने कहा कि हरियाणा से शुरू किए गये बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम हरियाणा में काफी सफल रहा है और कन्या भ्रूण हत्या के विरूद्ध यह संघर्ष दिखाई दे रहा है। उन्होंने बताया कि हरियाणा ने लिंगानुपात में सुधार किया है और अब देश को इस प्रकार के सुधार की आवश्यकता है।
    •  
    • चण्डीगढ़, 5 जनवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में विकास के लिए कभी भी बजट की कमी नही रही लेकिन हरियाणा के पूर्व के 9 मुख्यमंत्रियों के कार्यकाल में कार्य करवाने की इच्छा शक्ति की कमी थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्रीयों ने प्रदेश के विकास की बजाए व्यक्तिगत, परिवार और क्षेत्र विशेष के विकास की सोच पर कार्य किया है जबकि वर्तमान सरकार हरियाणा एक-हरियाणवी एक मूलमंत्र के आधार पर सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में एकसमान विकास कर रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकारों के कार्यकाल में भ्रष्टाचार की नीयत से विकास परियोजनाओं के लिए निर्धारित राशि को कम दिखाया जाता था जबकि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में परियोजनाओं के लिए निर्धारित बजट में से 15 से 20 प्रतिशत तक राशि बचती है। 
    • मुख्यमंत्री आज सब्जी मंडी नारायणगढ़ में लगभग 100 करोड़ रुपए की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करने के उपरांत हरियाणा के श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी द्वारा आयोजित विशाल कार्यकर्ता सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। 
    • मुख्यमंत्री ने राज्य मंत्री एवं स्थानीय विधायक नायब सिंह सैनी की मांग पर रायवाली-फतेहगढ़ मार्ग पर गाजीपुर में 14.50 करोड़ रुपए की लागत से पुल का निर्माण करवाने, नगरपालिका नारायणगढ़ व नगर निगम अम्बाला में नारायणगढ़ क्षेत्र की कलोनियों के विकास के लिए 10 करोड़ रुपए तथा नारायणगढ़ विधानसभा क्षेत्र के सभी गंावो के विकास के लिए 15 करोड़ रुपए की राशि उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने कोड़वा खुर्द से घड़ौली तक सडक़ निर्माण की घोषणा करने के साथ-साथ देश की सीमाओं की रक्षा में विशेष सहयोग देने वाले गांव कोड़वा - कड़ासन मार्ग को शहीद स्मृति मार्ग भी घोषित किया। उन्होंने राज्यमंत्री द्वारा रखी गई क्षेत्र की शेष समस्याओं के लिए भी आश्वस्त किया और कहा कि विकास के लिए धन की कमी आड़े नही आने दी जाएगी।
    • उन्होंने कहा कि गत दो वर्ष के दौरान प्रदेश के सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में विकास को गति देने के साथ-साथ व्यवस्था सुधार पर बल दिया गया है। उन्होंने कहा कि स्वर्ण जयंती वर्ष 2017 में विकास और रोजगार पर विशेष बल रहेगा और इसके लिए हरियाणा सरकार ने 550 उद्यमियों से 60 लाख करोड़ रुपए के औद्योगिक समझौते किए हैं। उन्होंने क्षेत्रवासियों को धार्मिक क्षेत्र के महानायक गुरू गोबिन्द सिंह के 350वें प्रकाशोत्सव की मुबारकबाद दी और कहा कि सरकार शीघ्र ही अम्बाला संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले पंचकूला, यमुनानगर अथवा अम्बाला में किसी एक स्थान पर गुरू गोबिन्द सिंह के नाम पर किसी बड़ी परियोजना की स्थापना करेगी।
    • उन्होंने कांग्रेस को भ्रष्टाचार की जननी करार देते हुए कहा कि उनके शासनकाल में विकास के लिए जारी किए जाने वाले 100 रुपयों में से धरातल में केवल 15 रुपए खर्च होते थे, जिसे उनके स्व. पूर्व प्रधानमंत्री ने स्वंय स्वीकार किया था। उन्होंने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भ्रष्टाचार के विरूद्ध प्रभावी अभियान आरम्भ किया है और काले धन, भ्रष्टाचार और आतकंवाद पर नकेल डालने के लिए नोटबंदी का साहसिक निर्णय लिया है।
    • मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सरकार विकास के साथ-साथ युवाओं को रोजगार दिलवाने के लिए भी कृत संकल्प है। उन्होंने कहा कि इसके लिए जहां औद्योगिक विकास को बढ़ावा दिया जा रहा है वहीं कौशल विकास और युवाओं को विभिन्न हुनरों में निपुण बनाने पर भी बल दिया जा रहा है। इस उदद्ेश्य से पलवल में कौशल विकास विश्वविद्यालय स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि बेरोजगार युवाओं को महीने में 100 घंटे का काम देकर निर्धारित मानदेय दिया जाएगा। प्रथम चरण में स्नातकोत्तर युवाओं को 9000 रुपए मानदेय दिया जा रहा है और दूसरे चरण में स्नातक स्तर के युवाओं को इस तरह का अवसर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने कोई भी सरकारी नौकरी सिफारिश के आधार पर नही दी जाती बल्कि सभी नौकरियां मैरिट के आधार पर योग्य युवाओं को दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सिफारिश के बल पर नौकरी में आने वाले असक्षम अधिकारी/कर्मचारी लम्बे समय तक प्रदेश का नुकसान करते हैं जबकि योग्य युवा विकास में सहयोग करेंगे।    
    • श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने मुख्यमंत्री का कार्यकर्ता सम्मेलन में पहुंचने पर पगड़ी पहनाकर, शॉल व फूलों का एक बड़ा हार पहनाकर स्वागत किया। उन्होंने 9 अप्रैल 2015 में मुख्यमंत्री द्वारा नारायणगढ़ विधानसभा क्षेत्र के लिए की गई विकास परियोजनाओं में से अधिकतर को पूरा करवाने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि भेद भाव- के दंश से था ग्रस्त हमारा प्रदेश न क्षेत्रवाद न जातिवाद बदल गया पूरा प्रदेश। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग करते हुए कहा कि नारायणगढ़ एक पिछड़ा क्षेत्र होने के कारण लोगों के पास रोजगार के अवसर नही है। उन्होंने हिमाचल की तर्ज पर नारायणगढ़ क्षेत्र को औद्योगिक रूप से पिछड़ा क्षेत्र घोषित करके औद्योगिक विकास को विशेष प्राथमिकता देने की मांग की। इसके अलावा उन्होंने क्षेत्र में घटते जलस्तर की समस्या के समाधान के लिए नहर का निर्माण करवाने, सिविल अस्पताल नारायणगढ़ में स्टाफ की कमी को पूरा करवाने सहित क्षेत्र के विकास से सम्बन्धित अन्य मांगे भी रखी। 
    • कार्यकर्ता सम्मेलन को सांसद रत्न लाल कटारिया, भाजपा के जिला अध्यक्ष जगमोहन लाल कुमार, जिला परिषद अध्यक्ष सुरेन्द्र राणा सहित अन्य नेताओं ने भी सम्बोधित किया। सांसद रत्न लाल कटारिया ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नोटबंदी के फैसले को भ्रष्टाचार पर एक बड़ा हमला बताते हुए अपने अंदाज में रागनी ‘नोटबंदी का तेरा फैसला मोदी हमारे दिल को भा गया घोटालेबाजों का ईलाज करने मोदी आ गया’ प्रस्तुत की और दर्शकों ने भी उनकी इस गायन और लेखन शैली को मुक्त कंठ से सराहना की। 
    • राज्यमंत्री ने क्षेत्रवासियों की ओर से मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पगड़ी, स्मृति चिन्ह व शॉल देकर उनका स्वागत किया। इस मौके पर ब्लॉक समिति नारायणगढ़, भारतीय जनता युवा मोर्चा, नगरपालिका नारायणगढ़, सरपंच यूनियन नारायणगढ-शहजादपुर, जिला परिषद अम्बाला, अनाज मंडी एसोसिएशन नारायणगढ, क्षेत्र की गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी और गऊरक्षा दल नारायणगढ़ के पदाधिकारियों ने भी मुख्यमंत्री को सम्मानित किया।  
    • इन विकास परियोजनाओं का हुआ उद्घाटन व शिलान्यास
    • मुख्यमंत्री द्वारा आज 162. 49 लाख रूपये से बनने वाले पीडबल्यूडी विभाग के रेस्ट हाऊस नारायणगढ़ के नये भवन का शिलान्यास, एनएच 72 से गांव गलोडी (यमुनानगर) मारकण्डा नदी पर 7 स्पेन का हाई लेवल पुल का शिलान्यास किया, जिस पर 1264. 54 लाख रूपये की राशि खर्च होगी। इस पुल के बनने से नारायणगढ़ हल्के के तथा सढौरा हल्के के दर्जनों गांवों के लोगों को सीधा लाभ होगा। इसी प्रकार गांव धनाना में 266.89 लाख रूपये से बनने वाली पीएचसी (प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र) भवन, शहजादपुर में 638.14 लाख से बनने वाले सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र सीएचसी का शिलान्यास किया। गांव बड़ागढ में 71 कनाल 14 मरले भूमि पर लगभग 1200 लाख से बनने वाले राजकीय कन्या कालेज तथा राष्ट्रीय राजमार्ग 73 से राज्यीय मार्ग-1 से वाया सादिकपुर हडबौन सडक़ को चौड़ा और सुदृढीकरण करने कार्य का शिलान्यास किया। जिस पर 1111.50 लाख रूपये खर्च आएगा। मुख्यमंत्री द्वारा उप स्वास्थय केन्द्र भूरेवाला का शिलान्यास किया  जिस पर 25 लाख रूपये की राशि खर्च की जाएगी।
    • इसी प्रकार मुख्यमंत्री ने एचबीवीएन के गांव पिलखनी में 800 लाख से बने तथा गांव लाहा में 1200 लाख से बने 66 केवी सब स्टेशनों का उद्घाटन किया। स्टेट हाई-वे एक से अम्बली- महुआखेड़ी मार्ग पर 123 लाख से बने दो स्पैन के लो-लेवल पुल, गांव रजौली से बधौली में बेगना नदी पर 573 लाख से  4 स्पैन के हाईलेवल पुल, बेगना नदी पर ही 929 लाख से निर्मित गांव छोटी कोहडी-मीरपुर को जोडऩे वाले मार्ग पर 7 स्पैन के पुल तथा गांव भांरापुर में 1200 लाख से बने आई.टी.आई. के भवन का उद्घाटन किया। 
    • इस अवसर पर सांसद रत्न लाल कटारिया के अलावा विधायक बलवंत सिंह सढ़ौरा, हरकोफैड के चेयरमैन रामेश्वर चौहान, उपायुक्त प्रभजोत सिंह, पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल, अतिरिक्त उपायुक्त आर.के. सिंह, एसडीएम मोनिका गुप्ता, जिला परिषद अध्यक्ष सुरेन्द्र राणा, भाजपा के जिला अध्यक्ष जगमोहन लाल कुमार, भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष संजय लाकड़ा, प्रदेश कार्यकारिणी की सदस्य नम्रता गौड, निगरानी समिति अध्यक्ष एवं मण्डल प्रधान नरेन्द्र राणा कुराली, जिला महामंत्री राजेश बतौरा, जिला सचिव अमित अग्रवाल, राज्य मंत्री के राजनैतिक सचिव सोहन सिंह, पूर्व जिला प्रधान भारत भूषण जटवाड़, मण्डल प्रधान नवीन शर्मा नारायणगढ़, मंडल प्रधान विवेक गुप्ता शहजादपुर, गुरपाल सिंह अकबरपुर, गुरमेल सिंह पंजेटो, राकेश बिंदल, अशोक साहनी, बांका सैनी, मोहित शर्मा, रविन्द्र सैनी, अश्वनी अग्रवाल, मुकेश गर्ग, पंचायत समिति शहजादपुर के चेयरमैन गुरनाम सिंह, वाईस चेयरमैन सुभाष सैनी, मार्किट कमेटी शहजादपुर चेयरमैन संजीव गुप्ता, ओम प्रकाश चानना, ब्लॉक समिति नारायणगढ चेयरमैन नीलम, वाईस चेयरमैन गुरमीत सिंह, भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष हैप्पी शर्मा, कमल गोंदी, पवन सैनी, नगरपालिका प्रधान जगदीप कौर, सरपंच यूनियन नारायणगढ के अध्यक्ष जसवीन्द्र बख्तुआ, सरपंच यूनियन शहजादपुर के प्रधान अशोक पाल व जिला परिषद सदस्य जिया लाल सैनी, नीना गुप्ता, नीरज अग्रवाल, देवेन्द्र सैनी, मण्डल महामंत्री मंगू राम कंजाला, गऊरक्षा दल के सुरेन्द्र सैनी, सोम दत्त तथा मीडीया प्रभारी संजीव सैनी सहित भाजपा के विभिन्न प्रकोष्ठो के पदाधिकारी कार्यकर्ता व गणमान्य लोग मौजूद थे।
    •  
    • चण्डीगढ़, 5 जनवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पंजाब, उत्तर-प्रदेश और उत्तराखण्ड राज्यों में अच्छी स्थिति में है और आगामी गोआ और मणिपुर के विधानसभा चुनावों से पहले अच्छा प्रदर्शन करेगी। 
    • मुख्यमंत्री आज यहां नजदीक गुरु गोबिन्द सिंह के 350वें प्रकाश पर्व के अवसर पर नाडा साहिब गुरुद्वारा पर माथा टेकने के उपरांत पत्रकारों द्वारा पूछे गए प्रश्रों का उत्तर दे रहे थे। 
    • एक अन्य प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि भाजपा के कुछ सदस्य पहले ही पडौसी राज्य पंजाब में चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं और यदि पार्टी हाई कमान ने उन्हें वहां चुनाव प्रचार के लिए कहा, तो वे भी पंजाब में चुनाव प्रचार के लिए जाएंगें। 
    • सतलुज-यमुना लिंक कैनाल के संबंध में पूछे गए प्रश्र के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का अनुसरण किया जाएगा और हरियाणा को उसके हिस्से का पानी मिलेगा। 
    •  
    • चण्डीगढ़, 5 जनवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज घोषणा की कि जिला अंबाला या यमुनानगर या पंचकूला की किसी एक परियोजना का नाम दसवें गुरु गोबिन्द सिंह की यादगार हेतु उनके नाम पर रखा जाएगा। 
    • मुख्यमंत्री ने यह घोषणा आज यहां नजदीक गुरु गोबिन्द सिंह के 350वें प्रकाश पर्व के अवसर पर नाडा साहिब गुरुद्वारा पर माथा टेकने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत के दौरान की। मुख्यमंत्री को गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा एक सिरोपा और तलवार भी भेंट की गई। 
    • श्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार गुरुद्वारे के साथ लगती हरियाणा राज्य औद्योगिक एवं अवसरंचना विकास निगम की 2.36 एकड़ भूमि पर सराय और पार्किंग के निर्माण के संबंध की गई मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी। 
    • इस पावन अवसर पर लोगों ने मुख्यमंत्री का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया और मुख्यमंत्री ने कहा कि गुुरु गोबिन्द सिंह ने शांति और सांप्रदायिक सौहार्द बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि गुरु गोबिन्द सिंह जी ने समाज के सामान्य लोगों के हितों की सुरक्षा के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया। 
    • इस अवसर पर सांसद श्री रत्तन लाल कटारिया और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।